चचेरे भाई का लंड देखकर चुद गयी Part 6 – मस्तराम स्टोरी

स्कूल गर्ल लेस्बियन स्टोरी में पढ़ें कि जब मेरी सहेलियों को मेरी चुदाई का पता चला तो उन्होंने मिल कर मेरे साथ क्या किया. सब नंगी हो गयी और मेरी गांड में …

दोस्तो, मैं मोना अपनी भाई-बहन की चुदाई की कहानी आपको बता रही थी।
इस स्कूल गर्ल लेस्बियन स्टोरी पांचवें भाग
सहेली को दिखाकर चुदी भाई से
में आपने देखा कि कैसे मैंने रिया के घर में अनिल के जाने से पहले अपनी चूत मरवाई।

अनिल से चुदवाकर मैंने उसको बाहर भेज दिया और उसके बाद मैंने और रिया ने एक दूसरे के साथ लेस्बियन सेक्स किया।
फिर हम लोग वहां से आ गए और अनिल अपने घर वापस जाने लगा। मुझे उसका जाना बर्दाश्त नहीं हुआ और मैं रोने लगी।

यह कहानी सुनकर मजा लीजिये.

.(”);

अब आगे स्कूल गर्ल लेस्बियन स्टोरी:

अनिल के जाने के बाद मैं बिल्कुल अकेली हो गयी। मेरा दिल कहीं भी नहीं लग रहा था।

उसने रात आठ बजे घर पहुंच कर मुझे फोन किया।
मैं फोन पर रो पड़ी।

उसने मुझे समझाया कि मोना ऐसा करने से सबको पता चल जाएगा और सबकी बहुत बदनामी भी होगी। हम लोगों को पढ़ना भी है। ऐसा करने से अच्छा है हम पहले की तरह पढ़ाई में मन लगाएं और एन्जॉय भी करें। बीच बीच में हम मिलते रहेंगे और बहुत प्यार भी करेंगे।

मुझे उसकी बातें सही लगीं मगर दिल का क्या … जो कहीं भी नहीं लग रहा था। मैं आज बेमन से खाना खाकर जल्दी सो गयी।

अगले दिन मेरा स्कूल था।
मैं तैयार होकर स्कूल पहुंची।

वहाँ मेरी बाकी सहेलियां शबनम, नेहा और रिया भी थीं। मुझे उदास देखकर शबनम और नेहा ने पूछा कि क्या हुआ.
तो रिया ने उनको बता दिया कि ये भी चुद गयी है अपने भाई से जो कल चला गया। इसको उसके लण्ड की याद सता रही होगी।

वो दोनों मेरे से सब पूछने लगीं तो हमारी क्लास शुरू हो गई।
उन्होंने डिसाइड किया कि हम सब लोग रिया के घर कल मिलेंगे क्योंकि कल स्कूल में छुट्टी थी और मेरी चुदाई होने की खुशी में पार्टी भी हो जाएगी।

स्कूल से आकर मैंने होमवर्क किया और पूरे दिन में चार पांच बार अनिल से बात की।
उस दिन कुछ खास नहीं हुआ।

अगले दिन दोपहर में बारह बजे मैं रिया के घर गयी।

वहां शबनम और नेहा पहले से ही थी। वो सब हमारी स्कूल ड्रेस में थी।

रिया ने हम सबको पहले से फ़ोन करके बोल दिया था कि घर से ड्रेस लेकर आनी है।

वो सब मुझे बहुत प्यार से मिलीं। रिया ने मेरे हाथ से ड्रेस ले ली और निकाल कर बोली- पहले ये पहनो हमारे सामने!
मैं उनके सामने पूरी नंगी हो गयी क्योंकि पहले भी हम सब में ये चलता रहता था।

तभी नेहा बोली- मोना … नीचे झुक जा और हमें दिखा तो सही तेरी चूत और गांड कितनी बार बजाई है उसने!
सब ऐसे ही आईडिया लगाने लगीं कि चूत पांच बार चुदी होगी और गांड तीन बार!

तभी मैंने देखा रिया के हाथ में वैसा ही प्लग था गांड में डालने वाला।
उसने उसको तेल में डुबोया और मेरे पीछे आकर फट की आवाज़ से मेरी गांड में डाल दिया।

शबनम बोली- अब खड़ी होकर ड्रेस पहन लो बिना ब्रा और पैंटी के!
मैंने अपनी गुलाबी स्कर्ट और सफेद शर्ट पहन ली।

ये ड्रेस बहुत छोटी हो गयी थी; शर्ट तो बहुत ज्यादा छोटी हो गई थी। इसमें मेरे ऊपर के 3 बटन तो बंद ही नहीं हुए। इससे मेरे आधे से ज्यादा बूब्स दिख रहे थे।
मेरी निप्पल भी देखने वाले को साफ नजर आ रही थी।

मेरी स्कर्ट भी काफी छोटी हो चुकी थी, इतनी कि थोड़ा झुकने से मेरी गांड तो दिख ही जाये।

आप पाठक खुद सोच सकते हैं मैं इस 2 साल पहले की स्कूल ड्रेस में कैसी लग रही होंगी।
तभी नेहा उठी और मेरे दोनों बूब्स पकड़ कर बोली- क्या मस्त लग रही हो … कितने बड़े हो गये हैं तुम्हारे!

मैंने उसके बूब्स पकड़ कर कहा- तुम्हारे तो मेरे से भी बड़े हैं।
वो बोली- तुमने अब चुसवाने शुरू किए हैं और मैं तो एक साल से चुसवा रही हूं। मेरे तुमसे बड़े तो होंगे ही!

उसकी बात सुनकर हम सब हंसने लगीं।

तभी रिया को फोन आया।
बाहर डिलीवरी बॉय था।
उन्होंने केक ऑर्डर किया हुआ था।

रिया ने उसको बोला- रुको, अभी आ रही हूं।
वो फोन काटकर मुझे बोली- जाओ केक लेकर आओ।
मैंने साफ मना कर दिया कि मैं ऐसे आधी नंगी नहीं जाऊंगी।

तभी रिया ने मुझे खड़ी करके मेरी स्कर्ट उठाकर मेरी गांड में लगा हुआ प्लग बाहर खींचकर फिर अंदर डाल दिया।
मेरे दोनों चूतड़ों पर ज़ोर ज़ोर से तीन चार थप्पड़ मार कर बोली- वो तुझे चोदेगा नहीं! अगर उसने चोद भी दिया तो अच्छा ही है। क्या पता उसका तुम्हारे अनिल से भी तगड़ा हो और वो हमें भी चोद डाले।

इस पर सब ज़ोर से हंसने लगीं।
फिर रिया ने मुझे समझाया कि कुछ नहीं होता, एक बार करके देख मज़ा आएगा।
मैं डरते हुए दरवाजे की तरफ बढ़ी और धीरे से दरवाजा खोल दिया।

बाहर कोई अंकल टाइप आदमी था। उसके हाथ में पैकेट था। वो मेरे बूब्स को ऐसे देख रहा था जैसे अभी खा जायेगा। उसने मेरे बूब्स देखते हुए पैकेट आगे बढ़ा दिया।

वो बोला- लगता है आप अभी स्कूल से आई हो। आपकी ड्रेस बहुत अच्छी है। आप यहीं पहनकर स्कूल जाती हो क्या?
मैं कुछ बोल नहीं पाई, बस ना में सिर हिला दिया और फटाफट दरवाजा बंद करके भागकर हॉल में आ गयी।

वहाँ वो सब खड़ी हंस रही थी।
रिया ने मेरे हाथ से केक पकड़कर रख दिया और मेरी आँखों में देख कर बोली- कैसा लगा उसको बूब्स दिखाकर?

मैंने गुस्से से आंखें तरेरी तो वो बोली- गुस्सा क्या करती हो … दिखाओ अपनी चूत … सच क्या है अभी पता चल जायेगा।
उन्होंने मेरी स्कर्ट उठा कर दो उंगली मेरी चूत में डाल दी।

फिर उंगली बाहर निकाल कर बोली- देखो … इसकी चूत गीली हो गयी है उस डिलीवरी वाले को अपने ये दोनों चूचे दिखाकर!

सब मुझ पर फिर से हंसने लगीं।
मुझे भी उनकी बातों से मज़ा आ रहा था।

नेहा ने कहा- रिया, तुम नंगी होकर घोड़ी बनो, मोना तुम्हारी नंगी गांड पर केक रखकर काटेगी।

ये बात सुनकर रिया अपनी ड्रेस उतारकर गांड खोलकर कुतिया की तरह झुक गई।
उसकी गांड में प्लग अभी भी था।
नेहा ने उसकी कमर पर केक रखा और बोली- सब नंगी होकर केक काटती हैं।

हम सब नंगी हो गयी।
मैंने केक काटकर शबनम औऱ नेहा को खिलाना चाहा तो उन्होंने बहुत सारा केक लेकर मेरी चूत पर लगाया और बोली- पहले इसको खिलाओ।

मैंने भी उन दोनों की चूत पर केक लगाया और फिर रिया की भी, जो कुतिया बनी हुई थी।
मैं उसकी चूत और गांड पर केक लगाकर चाटने लगी।

तभी शबनम लेटकर मेरी टांगों में आ गयी और मेरी चूत चाटने लगी।
नेहा रिया के आगे अपनी चूत खोलकर लेट गयी।

फिर हम सबने एक दूसरे की चूत का उंगलियों से और चूत से चूत रगड़ कर अपना पानी निकाला।

हम सबको बहुत मज़ा आया मगर जो मज़ा लण्ड से आता है उसका तो कहना ही क्या!

रिया ने मुझे दो प्लग दिये गांड में डालने वाले!
वो उसने अपनी कजिन से मंगवाए थे जो कनाडा रहती है।

फिर हम सब अपने अपने घर चली गयीं।

आगे अनिल के साथ क्या हुआ वो आपको अनिल बतायेगा.

दोस्तो, मैं अनिल … आगे की कहानी अब मैं बताता हूं।

मेरे घर जाने के बाद अगले दिन रात को रिया ने मुझे व्हाट्सएप पर मैसेज भेजा।
मैंने भी उसको जबाब दिया।

मेरा हालचाल पूछकर उसने एक फोटो भेजी जो उसकी पैंटी की थी जिसमें मैंने मुठ मारी थी।
फ़ोटो भेजकर उसने लिखा था- अनिल ये क्या है?

मैं डर गया और मैंने कोई जबाब नहीं दिया तो उसने कहा- अगर जबाब नहीं दिया तो वो मोना को सब बता देगी।
मैंने उसको सॉरी बोला और कहा- अब नहीं करूँगा।

उसने गुस्से से कहा- क्या ये सब तुम मोना की पैंटी में कर सकते हो?
मैंने कहा- नहीं।
तो वो बोली- फिर मेरे साथ क्यूं? मैं भी तो मोना जैसी ही हूं।

अब मैं क्या जबाब देता।
फिर उसने मुझे धमकाया कि वो मोना को बताएगी।
मैंने उसकी मिन्नतें कीं कि वो ना बताये।

वो बोली- अगर मैं उसके सामने ये सब करूं जो उसकी पैंटी में किया था तो वो नहीं बताएगी।
मैंने पहले मना किया और कहा कि मैं अब चंडीगढ़ तो आ नहीं सकता।

उसने कहा- वीडियो कॉल पर रात को दस बजे मुझे उसके सामने करना होगा।

रात दस बजे उसका वीडियो कॉल आया।
मैं उसके कॉल का इंतजार कर रहा था कि कहीं इसका मन बदल ना जाये और ये मोना को बता दे।

मेरे कॉल उठाते ही वो बोली- अनिल कैसे हो?
मैंने कहा- ठीक हूं।

उसने नाइटी पहनी हुई थी जो बहुत छोटी थी। जिसमें उसके बड़े बड़े चूचे आधे से ज्यादा दिख रहे थे।

उसने फोन को साइड में रखा हुआ था और वो खड़ी होकर अपने बाल कंघी कर रही थी जिससे वो पूरी दिख रही थी।

फिर वो एकदम से घूमी तो मुझे उसका पीछे का हिस्सा दिखा।
क्या कयामत लग रही थी वो!
उसकी गोरी गोरी टाँगें और नाइटी से झांकते उसके चूतड़!

मेरी आह … निकल गयी।
शायद उसको सुन गया होगा।

तो वो घूमकर मेरी तरफ झांक कर अपनी आंखें गोल गोल घुमाकर बोली- क्या हुआ अनिल?
मैंने कहा- कुछ नहीं।
फिर वो एक बार फिर पूरी घूमकर बोली- देखो मैं कैसे लग रही हूं?
मैंने कहा- बहुत सुंदर।

वो बोली- सिर्फ सुंदर या कुछ और भी?
मैंने थोड़ा चुप होकर कहा- बहुत सेक्सी भी।

रिया मेरी आँखों में देखते हुए बोली- तुम्हें मैं सेक्सी भी लगती हूं?
मैंने बोला- हां।

वो बोली- तो खड़े होकर दिखाओ तुमने क्या पहना हुआ है।

मैं खड़ा हो गया।
मैंने सिर्फ बरमूडा और टीशर्ट पहनी हुई थी जिसमें रिया को देखकर मेरा लण्ड थोड़ा खड़ा हो चुका था।

रिया बोली- बाहर निकालो उसको!
मैंने पूछा- किसको?
तो वो उंगली से मेरे लण्ड की तरफ इशारा करके बोली- इसको!

मैंने बरमूडा नीचे करके लण्ड बाहर निकाला जो थोड़ा सा खड़ा था।

रिया बोली- पूरे नंगे होकर खड़े हो जाओ।
मैंने सारे कपड़े उतार दिए।

अब रिया मेरे लण्ड को देखते हुए बोली- अच्छा अनिल, सच सच बताना … तुम्हें मेरे में सबसे सेक्सी क्या लगता है?

मैंने उसके बूब्स की तरफ इशारा करके कहा- तुम्हारे बूब्स!
वो बोली- क्या खास है इनमें?
मैंने कहा- कितने बड़े हैं और कितने नर्म नर्म होंगे।

वो बोली- इनको देखने का दिल करता है?
मैंने कहा- हां बहुत!

फिर वो मेरी आंखों में देखते हुए बोली- देखोगे?
मैं उसकी बात सुनकर खुश हो गया और मेरा लण्ड भी!

उसने अपनी नाइटी के ऊपर से दोनों बूब्स बाहर निकाल लिए और बोली- देखो अनिल!
ओह … क्या बूब्स थे साली के … बड़े बड़े … एकदम नर्म और गोरे गोरे … गहरे गुलाबी से रंग के निप्पल थे जिन्हें देखकर मेरा लण्ड झटका मार कर पूरा खड़ा हो गया।

उसने मदहोश नज़रों से मेरी तरफ देखते हुए अपने एक निप्पल को पकड़कर अपने मुंह में लेने की असम्भव कोशिश की।
फिर वो अपनी उंगली को ढेर सारे थूक से गीला करके बारी बारी अपनी निपल्लों पर घुमाने लगी।

वो सिसकारी लेते हुए बोली- आह्ह … अनिल चूस लो ना इनको … जोर से!
मैंने कहा- हां जान … चूस रहा हूं।

फिर वो बोली- और क्या सेक्सी लगता है मेरे अंदर तुम्हें?
मैंने कहा- तुम्हारे ऊपर को उठे हुए चूतड़ … कितने मस्त हैं ये! उस दिन हम तुम्हारी पैंटी खरीदने गये थे तो जब तुम चलती थीं तो ये तुम्हारी टाइट जीन्स में कैसे मटक रहे थे।

वो मेरे लण्ड को देखते हुए बोली- अच्छा अनिल … तुम्हारा लण्ड कितना बड़ा है और कितना मोटा … आय लव योर लण्ड!
फिर फ्लाइंग किस देकर बोली- दिल करता है अभी पकड़कर चूस लूं।
मैंने कहा- चूस लो।

फिर वो बोली- अनिल … अगर तुम मेरे पास होते तो क्या करते मेरे साथ?

मैंने लण्ड को उसके सामने हिलाते हुए कहा- तुम्हारे लिप्स चूसता औऱ चूचियों को भी। तुम्हारी चूत चाटता औऱ लण्ड तुम्हारे मुँह में डालकर तुम्हारा मुँह चोदता।
रिया मेरी बातें सुनकर कल्पना कर रही थी और अपने बूब्स को मसल रही थी।

फिर बोली- और क्या करते?
मैंने कहा- तुम्हारी चूत और गांड चाटता।

वो उह … आह … करते हुए बोली- और क्या करते?
मैंने कहा- तुम्हें कुतिया बनाकर तुम्हारी गांड मारता।
वो हैरानी से बोली- गांड ही क्यूं?
मैंने कहा- इतनी सुंदर है इसीलिए!

वो बोली- इतनी पसंद है तो बोलते क्यों नहीं कि देखनी है?
मैंने कहा- रिया दिखाओ ना अपनी गांड!
रिया एक मिनट भी बिना देर किये झुक गयी और अपनी नाइटी उठा कर बोली- देखो।

फिर उठ कर अपनी नाइटी उतार कर अपनी गांड पूरी खोल कर बोली- अब देखो!

मैं पागल हो उठा उसकी नंगी गांड देख कर!
एकदम गोरे चूतड़ … जिनकी गहराई में हल्का गहरे रंग का छेद जो हल्का सा खुला था।

उसके नीचे उसकी शेव की हुई चूत थी।
दोस्तो, दिल कर रहा था साली को अभी पटक कर चोद दूं।

मैंने कहा- रिया बहुत माल बहाया मैंने लण्ड का इस गांड और चूत के लिये … आ जा तुझे चोद दूं।
वो बोली- चोदो ना … जान!

इतना कहकर वो अपनी चूत को हाथ से रगड़ने लगी।

रिया ज़ोर ज़ोर से सिसकारियां ले रही थी और बोल रही थी- ओह … अनिल …चोद दो मुझे … कितना बड़ा लण्ड है तुम्हारा … डाल दो मेरी चूत और गांड में … आह अनिल!

उसने अपनी चूत को रगड़ रगड़कर उसने उसका रस निकाल दिया और हांफने लगी।
मैंने भी अपने लण्ड को बहुत तेज़ तेज़ हिलाते हुए उसका पानी निकाल दिया।

हम दोंनो बिस्तर पर लेट गए।

कुछ देर बाद रिया उठी और बोली- अनिल, मैं बाथरूम में जाकर अपनी चूत साफ करके आती हूं, पूरी भीग गयी है।

मैं भी बाथरूम में जाकर अपने को साफ करके आ गया।

तभी रिया भी आ गयी; वो अभी भी पूरी नंगी थी।

मैंने कहा- क्या बात है, दोबारा चुदवाने के मूड में हो क्या?
तो वो अपनी एक टांग बेड पर रखकर चूत के होंठ खोलकर नैपकिन से चूत को साफ़ करते हुए बड़ी बेशर्मी से बोली- ऐसे नहीं … जब सच में तुम्हारा लण्ड और ये मिलेंगे … तब ये पूरी रात तुम्हारे पप्पू को अपने अंदर रखेगी।

मैंने कहा- ये बात है तो मिलना ही पड़ेगा।
वो नंगी ही लेटते हुए बोली- हां अनिल … आ जाओ ना एक बार!
तभी रिया ने पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रैंड है?

मैंने कहा- हां है।
वो बोली- कभी सेक्स किया उसके साथ?
मैंने कहा- हां।

फिर पूछने लगी- कितनी लड़कियों से किया है?
मैंने बता दिया- दो से।
वो बोली- कौन हैं वो?
तो मैंने कहा- कॉलेज में हैं।
मैंने उसको मोना का नाम नहीं बताया।

फिर मैंने पूछा- तुमने सेक्स किया?
उसने बताया कि दो के साथ चुदाई कर चुकी है। मगर उनका मेरे से बहुत छोटा है और अब वो मेरे संग सेक्स करना चाहती है।

थोड़ी देर चुप रह कर वो बोली- अनिल, तुम्हें मोना कैसी लगती है?
मैं एक बार सोचने लगा कि ये मोना के बारे में क्यूं पूछ रही है?
फिर मैंने सम्भल कर जबाब दिया- अच्छी है।

वो बोली- मेरे से अच्छी है?
मैंने जबाब दिया- तुम अपनी जगह हो और वो अपनी जगह!

फिर वो अपनी चारों सहेलियों के बारे में बताने लगी कि वो कभी कभी लेस्बियन सेक्स करती हैं। बाकी सब चुदवा चुकी हैं। मगर मोना वर्जिन है। मगर उसको शक है कि अब मोना का किसी से अफेयर है और वो भी चुद चुकी है।

ये कहकर फिर मेरी आंखों में देख कर वो बोली- कहीं वो तुम तो नहीं हो?
मैंने कहा- क्या बोल रही हो ये?
तो वो आंखें घुमाकर बोली- क्यूँ क्या गलत है इसमें? मैं मोना की जगह होती तो क्या तुम मुझे नहीं चोदते?

मैं चुप था तो उसने मुझे झटका देते हुए कहा- अनिल, मेरे पास मेरी और मोना की नंगी फ़ोटो भी हैं।
कुछ फोटो उसने मुझे भेज दी औऱ बोली- देखो तुम्हारी बहन नंगी कैसी लग रही है।

फोटो में रिया कुतिया बनी हुई थी औऱ उसकी गांड में लाल रंग का गांड में डालने वाला प्लग था। मोना उसके नीचे लेटी हुई उसकी चूत चाट रही थी।

मोना की फ़ोटो देखते ही मेरा लण्ड पूरा खड़ा हो गया।
तभी रिया बोली- अनिल … कैसी लगी तुम्हारी बहन की गांड? ध्यान से देखो कितना सुंदर डायमंड डाल रखा है उसने गांड में।

मैंने रिया को बोला- छोड़ो यार उसको … अपनी बात सुनाओ।
तो वो हंसकर बोली- अपने लण्ड से पूछो जो उसकी फोटो देखते ही खड़ा हो चुका है। जैसे अभी चोद देगा मोना को।

उसकी गंदी बाते सुनकर मेरा हाथ अनायास ही मेरे लण्ड पर चला गया और मैं उसे आगे पीछे करने लगा।
रिया बोली- अनिल चोदना चाहते हो क्या मोना को और मुझे एक साथ?

मैंने लण्ड की सख्ती के आगे बेबस होकर कह दिया- हां रिया … चोदना चाहता हूं तुम दोनों को!
वो बोली- ठीक है, मैं कुछ करती हूं। मगर हम दोनों को एकसाथ चोदना होगा तुम्हें।

हमने बात फाइनल करके लण्ड और चूत का पानी एक बार फिर निकाला और सो गए।

दोस्तो, मोना और मैं इस कहानी में अभी इतना ही बता रहे हैं।
हम दोनों ने ये कहानी मिलकर लिखी है।
आशा है आपको पसंद आई होगी।

तो दोस्तो, मैं मोना कहानी को अभी यहीं रोक रही हूं। आगे की कहानी मैं जल्दी ही लाऊंगी।
मैं और अनिल दोनों ही अगली चुदाई की कहानी आपके लिए लाएंगे।

तब तक आप अपना प्यार देते रहें।
स्कूल गर्ल लेस्बियन स्टोरी पर कमेंट करना न भूलें और अपने संदेश ईमेल के जरिए भेजें।
मेरा ईमेल आईडी है-

Posted in Teenage Girl

Tags - antervansaaudio sex storycollege girlgand sexgandi kahanihot girlkamukata kahanimami ko chodaoral sexporn story in hindisex story familytrisha kar madhu viral porn videotrisha kar sex video