डॉक्टर से अपनी बीवी की चूत चुदवा दी – Sister Ki Chudai Story

डॉक्टर सेक्स कहानी मेरी बीवी की चूत चुदाई की है. उसके स्तन में गांड का इलाज कराने हम डॉक्टर के पास गए तो डॉक्टर ने मेरी बीवी की चूचियां दबाकर देखी.

मेरा नाम सन्दीप है, मैं रांची झारखंड से हूं. मेरी उम्र 35 वर्ष है.
मैं प्राइवेट कंपनी में काम करता हूँ.

मेरी पत्नी का नाम सोनी है, उसकी उम्र 30 वर्ष है.

हमारी शादी को 6 वर्ष हो गए हैं. हमारा एक बेटा भी है, जो अभी 4 साल का है.

मैं आपको अपनी पत्नी के बारे में बता दूँ!
वो बहुत गोरी और सेक्सी है. उसकी साइज़ 34-30-36 की है. मुझे अपनी पत्नी का जिस्म और दूसरों को दिखलाने में बहुत मजा आता है.

मेरा पूरा परिवार गांव में रहता है.
मैं अपनी बीवी और चार साल के बेटे के साथ एक किराए के मकान में रहता हूँ.

मेरी बीवी घर पर अक्सर नाइटी पहनती है जिससे उसकी गांड और दूध मस्त हिलते हैं.

हम लोग गर्मियों के दिन में छत पर सोते हैं.
चूँकि हम लोग किराए के मकान में रहते हैं तो उधर और भी किराएदार रहते हैं.

जब हम लोग छत पर सोते हैं तो मैं सुबह सुबह अपनी पत्नी की नाइटी ऊपर कर देता था, जिससे उसकी गांड कोई ना कोई देख सके.

कई बार तो सुबह में मेरी बीवी सीधी सोती है तो मैं उसकी नाइटी पेट तक उठा देता हूं.
वो सोते समय पैंटी नहीं पहनती है जिससे उसकी नंगी चूत को कई दूसरे किराएदारों ने भी देखा है.

उसे भी इस सब में मजा आता था.

ये बात आज से एक वर्ष पहले की है. मेरी पत्नी के स्तन में गांठ हो गई थी जिसे चैक करवाने के लिए मैं एक होमियोपैथी के डॉक्टर के पास गया.

वो डॉक्टर करीब 50 साल का रहा होगा.
उसने मेरी पत्नी को देखा और खुश हो गया.
चूंकि मेरी पत्नी देखने में माल लगती है तो उसे देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाता है.

मेरी पत्नी ने डॉक्टर को पूरी बात बताई तो डॉक्टर ने उससे अपने मम्मे दिखाने को कहा.

मेरी बीवी ने मेरी तरफ देखा तो मैंने आंख के इशारे से उसे हामी भर दी.

फिर डॉक्टर और मेरी पत्नी साईड में पर्दा लगे एक केबिन में गए.

डॉक्टर ने उससे ब्लाउज खोलने को कहा. मैं भी वहीं पर्दा के पास खड़ा था. मेरी पत्नी ने साड़ी को हटाया, जिससे ब्लाउज के ऊपर से उसके दोनों बूब्स दिखने लगे.

डॉक्टर मेरी बीवी के तने हुए मम्मे देखने लगा.
फिर उसने मेरी बीवी से कहा कि अपने हाथ से बताओ कि किधर गांठ है.
मेरी बीवी ने अपने एक चुचे को एक जगह से दबाकर उसे बताया कि इधर गांठ है.

डॉक्टर ने अपने हाथ से मेरी बीवी के मम्मे की गांठ वाली जगह पर उंगली से दबाकर देखा तो मेरी बीवी की हल्की सी आह निकल गई.

मैं अपनी आंखों से एक गैर मर्द के हाथ से अपनी बीवी के दूध दबाकर देखते हुए मस्त होने लगा.

फिर डॉक्टर ने उससे ब्लाउज खोलने के लिए कहा तो मेरी पैंट में सनसनी होने लगी.
शायद ये मेरी फंतासी थी जो आज मेरे सामने हो रही थी.
मुझे बड़ा अच्छा लग रहा था.

मेरी बीवी ने मेरी तरफ देखा तो मैंने सर हिलाकर उससे ब्लाउज खोलने का इशारा कर दिया.
वो अपने ब्लाउज के एक एक करके हुक खोलने लगी.
अब वो ऊपर से सिर्फ ब्रा में थी.

डॉक्टर ने उससे ब्रा भी खोलने को कहा.
मेरी पत्नी कुछ शर्मा रही थी क्योंकि वो पहली बार किसी अन्य पुरुष के सामने वो इस प्रकार से थी.

मैंने उससे कहा- अरे शर्माओ मत, जब तक डॉक्टर को दिखाओगी नहीं, तब तक इलाज कैसे होगा.

ये सुनकर उसने अपनी ब्रा खोलकर एक तरफ रख दी और दोनों हाथों से अपनी चूचियों को छुपाने लगी.

मैं उससे कहा- डॉक्टर से शर्म कैसी, दिखा दो न!
डॉक्टर भी बोलने लगा- हां दिखाओ, नहीं तो इलाज कैसे होगा?

फिर मेरी पत्नी ने दोनों हाथ हटा लिए जिससे उसके दोनों बूब्स उछल कर डॉक्टर के सामने आ गए.

डॉक्टर सामने से मेरी पत्नी क़े दूध छूकर चैक करने लगा.
वो एक मम्मे की गांठ वाली जगह दबा दबा देखने लगा.
फिर उसने दूसरे मम्मे को भी उसी जगह दबा कर चैक किया.

इतनी देर में मेरी बीवी भी अपनी शर्म छोड़ चुकी थी.
मुझे भी ये देखकर मजा आने लगा था.

डॉक्टर ने दोनों हाथों से मेरी बीवी के दूध को दाब दाब कर गांठ देखना शुरू कर दिया था.
मेरी बीवी भी उसे बता रही थी कि इसमें इधर दर्द होता है, इधर नहीं होता है.

डॉक्टर बारी बारी से दोनों मम्मे दबाते हुए देख रहा था.

मैंने भी महसूस किया कि इस सीन से मेरा लंड भी खड़ा हो गया था.

डॉक्टर ने बहुत देर तक मेरी बीवी के मम्मों को हर तरह से दबा कर जांचा.
फ़िर वो ऐसे ही बात करने लगा कि ये ठीक हो जाएगा.

मेरी बीवी अभी भी ऊपर से पूरी नंगी थी.

फिर डॉक्टर ने उससे पूछा- महीना ठीक से होता है?
वो बोली- हां होता हैं, पर सेक्स करते समय नीचे जलन होती है.

डॉक्टर ने मुस्कुरा कर कहा- नीचे कहां?
मेरी पत्नी ने शर्मा कर कहा- उधर चूत में.

डॉक्टर ने चुत शब्द सुना तो एकदम से बोला- ये गड़बड़ बात है … उधर तो जलन नहीं होनी चाहिए. इसे तुरंत जांचना होगा.

मेरी पत्नी ने मेरी तरफ देखा तो मैंने भी उसे दो उंगलियों से छेद बनाकर इशारा कर दिया कि चुत भी दिखा दो.
उसने मेरी तरफ गुस्सा से देखा.
मगर उसके पास कोई चारा नहीं था.

वो बगल में रखी टेबल पर बैठ गई.
डॉक्टर ने साड़ी और पेटीकोट हटाने को कहा.

मेरी पत्नी शर्माती हुई अपनी साड़ी और पेटीकोट खोलने लगी.
डॉक्टर भी उसे ही देख रहा था.

मेरी बीवी ऊपर से तो नंगी थी ही अब नीचे से भी नंगी होने जा रही थी.

इधर लंड मेरी पैंट फाड़ कर जैसे बाहर आने को बेताब हो गया था.

मैंने ध्यान दिया कि डॉक्टर ने भी अपना लंड एक दो बार मसल दिया था जो मेरी बीवी ने भी नोटिस किया था.

मेरी पत्नी आते समय अपनी पैंटी पहनना भूल गई थी.
साड़ी पेटीकोट के हटते ही वो हम दोनों के सामने पूरी तरह नंगी हो गई थी.

उसे जैसे ही ख्याल आया कि उसने पैंटी नहीं पहनी है, वो झट से अपनी चूत को छुपाने लगी.

डॉक्टर ने उसे लेटने को कहा और पैरों को मोड़ कर फैलाने को कहा.

अब तक वो भी अपनी शर्म छोड़ चुकी थी.

मेरी पत्नी के चूत में छोटे छोटे बाल थे, कुछ दिन पहले मैंने ही अपनी पत्नी के चूत के बाल साफ किए थे.

मेरी बीवी पूरी नंगी टेबल पर लेटी हुई थी.
अब डॉक्टर मेरी बीवी के पास जाकर पहले तो चूत देखता रहा. मेरी बीवी की चूत बहुत गोरी है.

फिर वो मेरी बीवी की चूत की फांकों को अपने हाथ से फैला फैला कर देखने लगा.
वो कभी कभी चूत को मसल भी देता था जिससे मेरी पत्नी के मुँह से एक सेक्सी आवाज भी निकल जा रही थी.

कुछ देर बाद मेरी पत्नी ने अपने पैर पूरी तरह से अलग करके डॉक्टर के सामने चूत फैला दी थी.
वो चुत खोले हुए मेरी ओर देख रही थी.

मैंने भी आंख मारते हुए उसे एक मुस्कान दे दी. मैंने देखा कि उसके चेहरे पर भी एक हल्की सी मुस्कान आ गई थी.

मुझे ऐसा महसूस होने लगा था कि औरत को अपने पति की रजामंदी मिल जाए तो वो किसी के सामने भी अपनी चुत खोलने को राजी हो सकती है.

डॉक्टर ने अब अपनी एक उंगली को मेरी पत्नी के चूत में घुसा दी और चुत चैक करने लगा था.

इससे मेरी पत्नी को अब मजा आने लगा था और उसकी चुत ने हल्का हल्का सा रस छोड़ना शुरू कर दिया था.

चुत से रस रिसना किसी को भी ये बताने के लिए काफी होता है कि चुत गर्म होने लगी है और चुत वाली को मजा आ रहा है.

डॉक्टर बहुत देर तक मेरी पत्नी की चूत को उंगली से ऐसे चैक करता रहा, जैसे कि वो चुत चोद रहा हो.
शायद डॉक्टर को अब चूत छोड़ने का मन ही नहीं था.

मैं तो ये देखकर दंग था कि मेरी पत्नी इस वक्त मुझे और भी ज्यादा सेक्सी लग रही थी.
वो अपनी आंखें बंद करके डॉक्टर की उंगली को अपनी चुत में लेकर मजा ले रही थी.

फिर डॉक्टर ने अपनी उंगली चुत से निकाली और मेरी बीवी से कपड़े पहन कर बाहर आने को कहा.

मैंने देखा कि डॉक्टर का लंड पैंट के ऊपर से पूरा खड़ा हो गया था.
इधर मेरा भी लंड पूरा खड़ा था.

डॉक्टर मुस्कुराते हुए अपने कुर्सी पर बैठ गया.
मेरी पत्नी अपने कपड़े पहन कर वापस डॉक्टर के पास आ गई.

डॉक्टर ने दवा दी और मुझसे कहा कि सेक्स करने से पहले अपनी पत्नी को पूरा गर्म किया करो, जिससे उसकी चूत पूरी गीली हो जाए, तभी अपना लंड चूत में डाला करो, इससे जलन नहीं होगी. तुम शायद सूखी चुत में लंड पेल देते हो, जिससे इसको जलन होती है.

उसने मेरी बीवी को एक सप्ताह की दवा दी और एक सप्ताह बाद आने का बोला, वो फिर से चैक करके देखेगा.

मैं अपनी बीवी को घर आने लगा.
आते समय मैं अपनी बीवी को छेड़ रहा था कि तुम्हारी चुत तो रस निकालने लगी थी.

वो शर्माने लगी और बोली- साले ने गर्म करके छोड़ दिया है. मेरी चुत में आग लगी है. घर चल कर मुझे शांत करो.

मैंने घर आते ही बीवी को पूरी नंगी करके चोदना शुरू कर दिया.
चुदाई के समय मैं डॉक्टर को याद करके उसे चोदता रहा.

इस तरह से एक हफ्ता बीत गया.

मैंने सोनी से कहा- डॉक्टर ने एक सप्ताह बाद आने को कहा था.
सोनी हंस कर बोली- मुझे लगता है कि वो फिर से नंगी करके चैक करेगा.

मैंने हंस कर कहा- हां, अबकी बार वो डॉक्टर तुमको चोद भी देगा.
वो बोली- हां वो तो आप साथ में थे, नहीं तो वो पहली बार में ही मुझे चोद देता.

मैं बोला- तो इस बार तुम अकेली ही जाओ और उससे चुदवा कर आना फिर मुझे बताना कि इसका लंड कैसा लगा.
मेरी बीवी खिलखिला कर हंस पड़ी.

हम दोनों में तय हो गया कि इस बार सोनी अकेली ही डॉक्टर से मिलेगी.

वो डॉक्टर के पास गई और डॉक्टर ने उसे अन्दर केबिन में ले जाकर पहले ऊपर से नंगी कर दिया.

सोनी ने अपने दूध उसे दिखाए और उससे बोली- डॉक्टर साब जब मेरे पति मेरे दूध चूसते हैं तो मुझे बड़ा अच्छा लगता है मगर जब मैं अपने हाथ से अपने दूध को दबाती हूँ तो इसमें मुझे दर्द होता है.

डॉक्टर ने सोनी की तरफ देखा और कहा- चलो मैं ये भी चैक कर लेता हूँ.

सोनी ने ओके कहा और वो टेबल पर बैठ गई.

डॉक्टर ने उसके एक दूध को अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगा. सोनी की मादक सीत्कार निकलने लगी.
कुछ ही देर में वो गर्म हो गई और उसने डॉक्टर को अपने पास खींच लिया.

डॉक्टर भी समझ गया कि ये गर्मा गई है तो उसने सोनी से कपड़े उतार कर नंगी होने को कहा.

सोनी तो चुदने के मूड में थी ही. उसने झट से अपनी साड़ी ब्लाउज उतार दिए और चुत खोल कर डॉक्टर को वासना से देखने लगी.

डॉक्टर ने कहा- कुछ चाहिए?
सोनी ने डॉक्टर का लंड पकड़ लिया और बोली- हां आपका ये चाहिए.

डॉक्टर ने अपने कपड़े उतारे और मेरी बीवी पर चढ़ गया.
उन दोनों में कुछ ही देर में चुदाई होनी शुरू हो गई.

बीस मिनट बाद मेरी बीवी ने डॉक्टर का लंड अपनी चुत में झड़वा लिया.

इस तरह से उसने एक गैर मर्द का लंड अपनी चुत में लेकर मजा ले लिया था.

बाद में उसने मुझे डॉक्टर सेक्स कैसे हुआ, सब कुछ बता दिया.

अब हम दोनों इसी तरह से अलग अलग मर्दों से और औरतों से चुदाई का मजा लेने लगे हैं.

आपको मेरी डॉक्टर सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें.

Posted in XXX Kahani

Tags - chudai ki kahanigandi kahanigaram kahanihindi sex stories bhabhihot sex kahaniyahot sex storikamvasnaporn story in hindisexy story indianwife sexmaa sexy story