बहन को रंडी बनाकर गरीबी मिटाई Part 2 – Suhagrat Xxx

देसी रंडी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी बहन पैसे लेकर चुदने लगी तो मैंने उसे एक बड़ी और महंगी रंडी बनाने की सोची. मेरी बहन की चुदाई मेरे सामने कैसे की गई?

हैलो फ्रेंड्स, मैं आदित्य रॉय आपको अपनी बहन की रंडी बनने की कहानी बता रहा था.
देसी रंडी सेक्स स्टोरी के पहले भाग
मेरी बहन की खिलती जवानी का राज
में मैंने बताया था कि कैसे मेरे मां-बाप के गुजर जाने के बाद हमारे घर में पैसे की तंगी हुई और इसी दौरान मेरी बहन ने चुपके से चुदाई का धंधा शुरू कर लिया.

फिर मुझे पता चला तो मैंने भी उसको चोद दिया. उसके बाद मैंने उसका सौदा अपने दोस्त के साथ किया और हम तैयार होकर उसके रूम पर पहुंच गये.

अब आगे देसी रंडी सेक्स स्टोरी:

मैं शराब गिलास में डालकर पीने लगा. सोनू कहीं चला गया. अब हम इंतजार कर रहे थे कि आगे क्या होने वाला है.
मैं तो हैरान था कि सोनू इतना सब इंतजाम करके मेरी बहन की चुदाई करेगा!

कोमल टीवी पर चुदाई की फिल्म देख रही थी जिसमें 5-6 लड़के एक लड़की को चोद रहे थे.
वो बोली- भैया, क्या ऐसे भी लड़कियां चुदवा लेती हैं? क्या मुझे भी ऐसे ही चुदना पड़ेगा?

मैं बोला- मुझे नहीं पता. शायद चुदना भी पड़े. अगर सोनू तेरे से ऐसे चुदने को कहे तो तू उससे और ज्यादा पैसे मांग लेना. वो करोड़पति है.

कोमल- तो कितने पैसे मांगूं?
मैं- तू उससे 5 लाख मांग लेना.

फिर हम दोनों टीवी देखने लगे.
कोमल पोर्न फिल्म देखते हुए बहुत गर्म हो चुकी थी.

सोनू को गये हुए एक घंटे के करीब हो गया. मगर वो अभी तक नहीं आया.

चुदाई का वीडियो देख मेरी बहन की चूत के आसपास का हिस्सा सारा गीला हो गया था.
कोमल बोली- भैया, मेरी चूत बह रही है. अब मुझे चुदना है.
मैं बोला- सोनू आता ही होगा.

मेरा लंड भी पूरा खड़ा हुआ था.

लगभग 10 बजे फिर सोनू आया. उसके साथ 4 और लड़के भी थे.
सब के सब 25 से 30 साल के बीच के थे. सब के सब एकदम पहलवान जैसे थे. वो अपने देश के नहीं लग रहे थे. सब बॉडीबिल्डर थे.

आते ही सोनू ने उनसे कहा- आपने डील के लिए लड़की का कहा था. ये लीजिये, लड़की हाजिर है.
मेरी बहन डरने का नाटक करते हुए मेरे पीछे आकर छिप गयी.

मैंने सोनू से कहा- ये सब क्या है? तुमने तो कहा था कि तुम ही चोदोगे, ये तो 4-5 हैं.
वो बोला- देख भाई, अब तू बीच में टांग मत अड़ा. मेरी डील खराब हो जायेगी. मुझे लाखों का नुकसान होगा.

फिर मैंने कोमल की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये ही बतायेगी कि उसे इतने आदमियों से चुदना है या नहीं.
कोमल को चुदास चढ़ी हुई थी. उसने हां कर दी. मगर वो कहने लगी कि 5 लाख लूंगी.

सोनू बोला- इतने मैं नहीं दे सकता. मैं केवल 2 लाख दे सकता हूं.
फिर कोमल राजी हो गयी.

उसके बाद कोमल को दवाई खिलाई गयी ताकि वो जल्दी न झड़े और उन सबने भी दवाई खायी ताकि उनके लंड भी जल्दी न झड़ें. सोनू ने भी दवाई खायी।

फिर एक आदमी ने कोमल को गुड़िया की तरह उठा लिया और उसको टेबल पर पटक दिया.
मैं बाहर जाने लगा तो सोनू बोला- कहीं नहीं जाना है. यहीं रहो और अपनी बहन की चुदाई देखो।
मैंने बोला- ठीक है।
फिर मैं बैठ गया।

थोड़ी देर में चारों नंगे हो गए. सबका लंड खड़ा था. सबका लंड बहुत लंबा और मोटा था। 8 इंच से भी कुछ न कुछ बड़ा था और मोटा 3 इंच से कम नहीं। सबका लंड काला था.

मेरी बहन सबका लंड देख कर डर रही थी।
सोनू ने कोमल को डरते देख लिया और बोला कि डरो नहीं, एक बार ले लोगी तो फिर जन्नत का मजा मिलेगा।
चारों लड़कों ने सोनू को बोला- तुम भी आओ.

तो अब सोनू भी नंगा हो गया। सोनू का भी लंड कम नहीं था. उसका लंड भी 8 इंच लंबा और 2.5 इंच से ज्यादा मोटा था.

कोमल का पहनावा इतना उत्तेजक था कि सबके लंड फुंफकार मारने लगे थे. उसकी चूत पर जो मोती था वो तो बहुत ही ज्यादा कामुक बना रहा था उसकी चूत को.

उसके बाद कोमल को घुटनों के बल बिठाया और पहले आदमी ने अपना 9 इंच लंबा और 3 इंच से भी ज्यादा मोटा लंड कोमल हाथ में पकड़ाया।
कोमल उसके लंड को एक हाथ में नहीं पकड़ पा रही थी।

तब पहला आदमी बोला- जान … तुम्हारे एक हाथ में नहीं आएगा मेरा हथियार, इसलिए दोनों हाथों से पकड़ो।
फिर सब खिलखिलाकर हंसने लगे।

कोमल ने दोनों हाथों से लंड पकड़ा जैसे कोई मोटा बांस पकड़ा हुआ हो.

फिर पहला आदमी बोला- चूसो इसे!
कोमल जीभ से लंड का टोपा चाटने लगी और मस्त आवाजें करने लगी- ऊऊम्म् … अअईई … आह्ह।

लगभग 15 मिनट तक जीभ से पूरा लंड चाटती रही और आंड भी.

उसके बाद उसने मुंह में दे दिया और वो मुंह से चूसने लगी.

इस तरह से कोमल ने लगभग एक घंटे तक सबके लंड चूसे.
वो सबके लंड बदल बदल कर चूसती रही.

फिर एक आदमी ने उसके हाथ पकड़े और दूसरे ने पैर, उसको उठा कर टेबल पर बिठा दिया.
कोमल का सिर आगे की ओर टेबल से बाहर आ गया और पीछे से उसकी गांड भी टेबल से बाहर ही थी.

उसकी चूचियों से लेकर पेट तक का हिस्सा टेबल पर था. उसने जो लैगीज पहनी थी उसको चूत और गांड की जगह से फाड़ दिया गया. फिर उसकी धागे वाली पैंटी को तोड़ कर फेंक दिया.

अब एक लड़के ने उसके मुंह में लंड डाला और दूसरे ने पीछे से उसकी चूत में डाला.
उसको खड़े खड़े ही वो चोदने लगे.

तीसरे आदमी ने अपना लंड कोमल के हाथ में पकड़ाया और उसके बूब्स दबाने लगा।

चौथे आदमी ने कोमल के दूसरे हाथ मे अपना लंड दिया और बोला- सहलाओ लंड को रंडी.
वो उसे फिर किस करने लगा।

अब सोनू बच गया.

उसने कोमल के पैर को ऊपर यू शेप में मोड़ा और छत से जो रस्सी लटक रही थी, उससे बांध दिया. अब सोनू टेबल पर चढ़कर उसकी चूत चोद सकता था.

अब जो आदमी कोमल की चूत चोद रहा था उसको सोनू ने गांड चोदने को कहा और खुद उसकी चूत चोदने लगा. अब कोमल के दोनों हाथों में एक-एक लंड, एक मुंह में, एक चूत में और एक गांड में था.

सब मेरी बहन को मेरी आंखों के सामने चोदे जा रहे थे और गंदी गंदी गालियां दे रहे थे।

सब बोलने लगे- रंडी की बच्ची, आज तेरी चूत को फाड़ देंगे. तेरी गांड, तेरा मुंह सब का सब चोद कर फाड़ देंगे. तेरी रंडी मां भी ऐसे ही चुदती होगी. तेरी चुदाई का जो वीडियो बना रहे हैं वो भी नेट पर डालेंगे. इससे सबको पता चल जायेगा कि तू रंडी है.

मैंने चारों तरफ देखा तो कैमरे लगे हुए थे. लाइव चुदाई रिकॉर्ड भी हो रही थी. सब के सब बारी बारी से अदला बदली कर उसकी चूत मार रहे थे. कोमल के मुंह में घुसा हुआ लंड उसके गले तक साफ पता लग रहा था.

पौना घण्टा हो गया था उसकी चुदाई चलते हुए. मैं वहीं बैठा हुआ लंड सहला रहा था. इस बीच मैं एक बार पानी निकाल चुका था.
सोनू बोला- क्यों साले भड़वे? तू बहनचोद बनेगा क्या जो अपनी बहन को चुदते हुए देखकर मुठ मार रहा है?

मैं उससे कुछ नहीं बोला.
फिर उसने कहा- आ जा तू भी, पचास हजार दूंगा तुझे भी. चोद दे इसको.

मैं तुरंत नंगा हो गया और सोनू ने मुझे भी दवाई खाने को कहा.

अब मैं भी मैदान में था. सब मुझे बहनचोद की गाली दे रहे थे.

एक बड़ी रस्सी लायी गयी और कोमल के 36 के बूब्स को कसकर बांध दिया गया. बूब्स के बगल में ही उसके पैर सटाकर उसे बांध दिया गया. फिर एक आदमी नीचे लेट गया.

दो आदमियों ने कोमल को उठाया और नीचे लेटे आदमी के लंड पर बिठा दिया. उसका लंड कोमल की गांड में घुस गया.
सोनू मुझसे बोला- अब तू भी इसकी गांड में लंड डाल.

मैं भी जोश में था. इसलिए मैंने भी जोर लगाकर अपना लंड भी अपनी बहन की गांड में फंसा दिया. वो गर्दन को हिलाती रही मगर हिल नहीं पा रही थी क्योंकि उसके गले में लंड फंसा हुआ था.

अब दो दो लंड कोमल की गांड में फंस गये थे. उसका चेहरा पूरा लाल हो गया था और सब के सब उसको देखकर हंस रहे थे.

मेरी बहन की गांड फट गयी थी. मगर मुझे भी मजा आ रहा था अपनी रंडी बहन को ऐसे चुदते देखकर.

अब सोनू ने उसकी चूत में लंड घुसा दिया. सब कोमल को चोदने लगे.
मैं भी कभी उसकी गांड में चोदने लगा तो कभी चूत में।

दो आदमी कोमल के रस्सी बंधे बूब्स को भींच रहे थे. कोमल उन दोनों के लंड को दोनों हाथों से सहला रही थी.

एक आदमी कोमल का मुंह चोद रहा था. कोमल के मुंह से फच फच की आवाज आ रही थी.

चोदते चोदते आधा घंटा और बीत गया. अब सब लोग झड़ने वाले थे.
सोनू बोला- सबने इस बोतल में झड़ना है.
फिर सबने बारी बारी से बोतल में अपना वीर्य निकाल दिया. मैंने भी बोतल में ही वीर्य निकाला.

फिर सोनू ने कोमल की चूत में एक रबड़ का लंड डाला और उसको चोदने लगा. जब तक कोमल झड़ नहीं गयी वो उसे उस डिल्डो से चोदता रहा. फिर कोमल के पैर खोले. मगर बूब्स अभी भी बंधे हुए थे.

वो खड़ी हुई और पानी मांगने लगी. उसको प्यास लगी थी.
सोनू ने उसके हाथ में वीर्य की बोतल पकड़ा दी और बोला- पी ले रंडी, ये अमृत है. अमर हो जायेगी तू.

कोमल पीने के लिए मना करने लगी तो सोनू ने जबरदस्ती उसको वीर्य पिला दिया.
सोनू बोला- क्यो रण्डी … मजा आया?
कोमल बोली- हाँ बहुत मजा आया।

फिर सोनू बोला- हर रविवार ऐसा ही मजा लेना चाहेगी? मेरे पास सब विदेशी क्लाइंट है. मुझे डील के लिए लड़की की जरूरत पड़ती है.
कोमल बोली- हां ठीक है. मैं तैयार हूं. मगर मैं हर बार पांच लाख लूंगी.

सोनू बोला- ठीक है, तो फिर ये मेरा गेस्ट हाउस अब तुम्हारा हुआ. तुम दोनों अब यहीं रहो. यहां चारों तरफ जंगल है और कोई आता भी नहीं है. तुम अपनी चुदाई के वीडियो से भी पैसे कमा सकती हो.
मैं एक आदमी को भेज दूंगा और वो तुम्हारी चुदाई के वीडियो भी नेट पर डाल दिया करेगा. अब से तुम ऐसे ही कपड़े पहनोगी. या फिर नंगी भी रह सकती हो.
कोमल बोली- ठीक है.

उसके बाद मैंने कहा- मुझे पेशाब लगी है, मैं करके आता हूं.
फिर सब भी बोले- हमें भी लगी है.
सोनू बोला- चल रंडी, बाथरूम में आ. हम सब तेरे मुंह में मूतेंगे.

सब लोग बाथरूम में आ गये. वहां पर भी कैमरे थे. फिर कोमल को मुंह ऊपर की ओर खोलकर बैठने को बोला. फिर सब के सब एक साथ मूतने लगे. कोमल सब के पेशाब को पीने लगी.

कोमल पेशाब में पूरी नहा गयी. फिर टाइम देखा तो 3.30 हो गये थे. फिर रूम में आकर सब नंगे सोने की बात करने लगे. कोमल को हम सबके ऊपर सोने का बोला गया.

सोनू ने कोमल को अपने पास बुलाया. उसकी चूत और गांड में 9-9 इंच का एक-एक डिल्डो घुसा दिया गया. उससे कहा गया कि इसको तभी निकालना है जब मूतना, चुदना हो या उठना हो.
कोमल बोली- ठीक है.

इतनी ज्यादा चुदने के बाद जब कोमल की चूत और गांड में फिर से डिल्डो दिया गया तो वो पैर फैलाकर चल रही थी. कोमल की गांड भी बड़ी लग रही थी और उसके बूब्स भी जैसे सूज से गये थे.

हम सब फिर लेट गये और कोमल हमारे ऊपर लेट गयी. हम सब सो गये. सुबह उठे तो कोमल ने डिल्डो निकाले और वो बाथरूम में गयी. फिर वो फ्रेश होकर आई और मुझसे बोली कि मेरी गांड और चूत में फिर से डाल दो डिल्डो.

सब वहीं पर थे और सब इस बात पर हंसने लगे.
वे बोले- हां बहनचोद, डाल दे अपनी बहन की चूत और गांड में.
फिर मैंने कोमल की चूत और गांड में वो डिल्डो डाल दिये.

सोनू बोला- आज मैं डॉक्टर को भेजूंगा ताकि वो इसकी नसबंदी कर दे. उसके बाद ये चुदाई की कामदेवी बनेगी.
मैंने बोला- ठीक है.

उसके बाद वो सब चले गये. मैं और कोमल वहीं रह गये. कोमल अब नंगी ही अपनी चूत और गांड में डिल्डो लिये घूम रही थी. वो रंडी की तरह पैर फैलाकर चल रही थी.

लगभग 2 बजे 2 डॉक्टर आये, सारे डॉक्टर मर्द थे।

फिर जब कोमल को देखा और बोला कि तुम नंगी क्यों हो और ये चूत और गांड में क्या है? फिर कोमल ने सारी बात बताई.
वो कोमल को एक रूम में ले गए और मुझे भी बुलाया.

वहाँ भी कैमरा था.
डॉक्टर ने बोला- सोनू जी, मुझे ऑपरेशन के पैसे नहीं दिए हैं और बोला है कि पैसे के बदले इसकी चूत और गांड मारनी है.
मैं बोला- ठीक है, पहले चोद लो. फिर कर लेना ऑपरेशन.

उसके बाद दोनों डॉक्टर मिलकर बहन को चोदने लगे. आधे घंटे तक मेरी बहन की चुदाई चली.

मैं भी सामने ही था और डॉक्टर मेरे सामने मेरी बहन को चोद रहे थे.

चोदने के बाद वो फ्रेश हुए और फिर मेरी बहन का ऑपरेशन किया. उसकी नलबंदी कर दी.
डॉक्टर एक महीने तक चोदने का मना करके गये.

फिर एक महीने के बाद कोमल चुदाई के लिए तैयार हो गयी.

अब वो हर रविवार को चुदने लगी. कभी 3 लौड़ों से तो कभी 4 लौड़ों से चुदती थी. कभी कभी तो एक साथ 8 लंड उसको मिलकर चोदते थे.

इस तरह से हम दोनों भाई बहन करोड़पति हो गये.

उसके बाद जब बहुत सारा पैसा हो गया तो हम दोनों ने शादी कर ली और हम पति-पत्नी की तरह रहने लगे.

अब कोमल हर रविवार को रंडी बनती है और बाकी दिन मेरी पत्नी बनकर रहती है.

दोस्तो, ये थी मेरी रंडी बहन की चुदाई की कहानी. आपको ये देसी रंडी सेक्स स्टोरी कैसी लगी. अपने कमेंट्स में बतायें. थैंक्यू दोस्तो।

Posted in Group Sex Stories

Tags - antervadanabahan ko choda kahanicall girldesi ladkigand sexporn story in hindisex ki khaniरंडी की चुदाई की कहानियाँantarwasna khani