हरामी जीजा ने मेरी बहन चोद दी – Sex Storirs

हॉट दीदी कहानी में पढ़ें कि मेरी दीदी अपनी ममेरी बहन के घर रहने गयी तो वहां जीजू ने मेरे बहन को सेट कर लिया और ममेरी दीदी के सामने ही मेरी बहन को चोदने लगा.

मेरी ममेरी दीदी की शादी दिल्ली में हुई थी। उसका नाम नेहा है। उसकी उम्र 35 के आस पास है।

उसके मोटे हिलते दूध और चौड़ी गान्ड विद्या बालन की याद दिलाते हैं।
उसका पति उनसे उम्र में कुछ बड़ा है।

लेकिन यह हॉट दीदी कहानी मेरी सगी दीदी की चूत चुदाई की उसके जीजू से है.

ममेरी दीदी के घर मेरी दीदी चंचल रहने गई थी क्योंकि वो वहाँ जॉब करती थीं।
चंचल की उम्र 27 साल के आस पास थी। वो कुछ कुछ परिणीति चोपड़ा की तरह दिखती है।

ममेरी दीदी और जीजा के साथ मैं पहले कुछ साल रहा था।
मैं अपनी ममेरी दीदी नेहा की चूत चुदाई भी कई बार कर चुका था।

ममेरा जीजा के बारे मैं पहले से जानता हूं कि ममेरा जीजा भी बहुत हरामी है।
वो जब कभी घर आता था तो मेरी बहन चंचल से जीजा होने के कारण मज़ाक भी करता था।
ये सब चलता रहता था।

चंचल दीदी का ट्रांसफर हैदराबाद से दिल्ली हो गया था।
इसलिए वो कुछ दिन तक ममेरी दीदी के घर पर रुकने वाली थी।
चंचल दीदी दिल्ली में उन लोगों के साथ रहने लगी।

मेरी चंचल दीदी का एक बॉयफ्रेंड हैदराबाद में था जिसके साथ वो शादी भी करना चाहती थी।
उसका बॉयफ्रेंड भी दिल्ली ट्रांसफर होकर आना चाहता था। वो भी ट्रांसफर दिल्ली कराने की कोशिश कर रहा था।

इधर चंचल दीदी दिल्ली में ममेरी दीदी के साथ रहने लगी।

ममेरी दीदी प्रेगनेंट थी इसलिए वो ज्यादा इधर उधर नहीं जाती थी।

कुछ दिनों बाद ममेरी दीदी का मेरे पास फोन आया कि चंचल दीदी और जीजा रात को साथ साथ सोते हैं और मुझसे गुस्सा-गुस्सा रहते हैं।
उसने कहा- तुम चंचल से कहीं और रहने को कह दो।

मैंने भी चंचल दीदी से कहा- आप कहीं और फ्लैट ढूंढ लो।
लेकिन उसने कहा- यहां मैं ठीक से रह रही हूँ।
उसने बताया कि उसके बॉयफ्रेंड का ट्रांसफर होने के बाद वो फ्लैट ले लेगी।

ममेरी दीदी उस दोनों के कारण मुझे फोन करती थी।

मैं जीजा से इस बारे में नहीं बोलना चाहता था क्योंकि वो मेरी और ममेरी दीदी की चुदाई के बारे जानता था।
उसके बाद भी वो कुछ नहीं बोलता था।

एक दिन मैंने जीजा को फोन किया, वो उस समय दारू के नशे में था।
उससे मैंने साफ साफ बोल दिया- ये सब बंद कर दो।
वो मुझे गालियां देने लगा, मेरी और ममेरी दीदी की चुदाई के बारे में बोलने लगा।

कुछ दिन बाद मैं दिल्ली गया।
तो भी जीजा नहीं माना।

यहां तक कि उसने चंचल दीदी को मेरी और ममेरी दीदी के बारे में सब कुछ बता दिया था।
उसने भी मुझे कहा कि तुम अपना काम करो।

मैं काफी दिन वहीं रुका लेकिन वो दोनों नहीं माने।

जीजा और चंचल दीदी हम दोनों के सामने रात को एक साथ कमरे में जाते और जीजा चंचल दीदी को चोदता और फिर सुबह वो ऑफिस चली जाती।
ये सब रोज़ का हो गया था।

जीजा ने कहा कि जब तक ममेरी दीदी प्रेगनेंट है तब तक चंचल साथ में है, फिर वो अलग फ्लैट ले लेगी।

एक रात, मैं और ममेरी दीदी नेहा 11 बजे टीवी पर फिल्म देख रहे थे।
तभी जीजा और चंचल दीदी के कमरे से जोर जोर हंसने की आवाज़ आने लगी।

उनकी बातचीत से ऐसा लग रहा था जैसे दोनों ने खूब शराब पी हो।
वो लोग नशे में थे।

तभी जीजा नंगा निकला और फ्रिज से पानी निकालने लगा।

इतनी देर में चंचल दीदी भी पूरी नंगी कमरे से निकली।
हम दोनों दूसरे कमरे से ये सब देख रहे थे।

चंचल पूरी नंगी थी।
वो फ्रिज के पास खड़ी हो गई।

उसके दूध बिल्कुल मुलायम मुलायम थे, हल्का सा हंसने पर हिल रहे थे।
चंचल दीदी की गांड पर जीजा के थप्पड़ के निशान साफ साफ गोरे बदन पर दिख रहे थे।

दीदी की गांड बहुत गोल थी, जीजा को चोदने में बहुत मज़ा आया होगा।
इसलिए उसको अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहता था।

चंचल दीदी की ये पहली चुदाई नहीं थी।
हैदराबाद वाला लड़का जो उसका कई सालों से बॉयफ्रेंड था, उसको ना जाने कितनी बार खोल चुका होगा।
कॉलेज में भी दीदी का कोई बॉयफ्रेंड रहा होगा।

चंचल दीदी को नंगी देख लग रहा था कि वो चुदक्कड़ हो चुकी थी।
शायद शादी से पहले जीजा से भी मज़े करना चाहती हो।

चंचल दीदी, जीजा को अंदर चलने के लिए बोल रही थी।
लेकिन जीजा उसकी गान्ड को दबाने लगा, अपनी उंगली को चूत में डालने लगा।

मुझे बहुत मज़ा आने लगा ये देख कर!

तभी ममेरी दीदी उठी और उन्होंने दरवाज़ा बंद कर लिया।
वो बोली- अब ये सब और नहीं देख सकती मैं!
मैंने भी अपनी चालू बहन की लाइव चुदाई मिस कर दी।

अगले दिन ममेरी दीदी की अलमारी से मैंने जीजा का कैमरा निकला जिसमे वो कई बार नेहा दीदी को चोदते समय रिकॉर्डिंग करता था।

मुझे लगा इसमें चंचल दीदी के वीडियो भी उसने रिकॉर्ड किए होंगे।

जब मैंने वो कैमरा खोला तो उसमें बहुत सारे वीडियो जीजा और चंचल दीदी के दिखे।
मैंने सोचा कि जीजा और दीदी दोनों ही ऑफिस से आने वाले होंगे।
इससे पहले कुछ वीडियो अपने लैपटॉप में ट्रांसफर कर बाद में देखूंगा।

मैंने वीडियो ट्रांसफर कर उनका कैमरा वहीं रख दिया।
इस कहानी में मैं एक दो वीडियो के बारे में बताऊंगा क्योंकि वीडियो बहुत थे।

एक वीडियो में जीजा अपनी पैंट उतार कर नंगा हो जाता है।
चंचल दीदी अभी भी ऑफिस ड्रेस में थी।
वो किसी से फोन पर बात करते करते अपने कपड़े उतार रही थी।

जीजा उसको उल्टा लिटा कर तेल लेता है और दीदी की गान्ड पर हल्के हाथों से मसाज करने लगता है।
चंचल दीदी अभी भी फोन पर बात कर रही थी।

जीजा पीछे से दीदी की चू में हल्की हल्की उंगली डालने लगता है।
तब दीदी फोन पर बोलती है- अच्छा, बाद में कॉल बात करेंगे।
और फोन काट कर सीधी हो जाती है।

दीदी कहती है- थोड़ा इंतजार नहीं कर सकते।
जीजा अब दोनों हाथ दीदी के दूधों पर रख देता है और तेल लगाकर मसाज लगाने लगता है।

15 मिनट तक मसाज चलती है।

फिर चंचल दीदी जीजा के लन्ड को मुंह में ले लेती है।

दो तीन मिनट में जीजा का लन्ड तन कर खड़ा हो जाता है।
दीदी अभी भी लन्ड चूस रही होती है, जीजा उसको रुकने के लिए कहता है।

फिर जीजा उसे अपने दोनों बॉल को मुंह में लेने के लिए कहता है।
दीदी हल्का हल्का दोनों बॉल को मुंह में रखकर अंदर बाहर करने लगी।

फिर कुछ देर बाद चंचल दीदी बिस्तर पर सीधा लेट गई और जीजा अपनी जीभ को उसकी योनि पर रख कर चाटने लगा और दो उंगली को चूत के आसपास हल्का हल्का घुमाने लगा।
दीदी अब और गरम हो रही थी।

जीजा एक हाथ से चंचल के दूध को पकड़ कर दबा रहा था और दूसरे से चूत में उंगली कर रहा था।

चंचल दीदी इतनी खूबसूरत दिख रही थी। उसके दूध मक्खन की तरह दब रहे थे।

जीजा का लन्ड थोड़ा बड़ा और मोटा था।
मेरे लन्ड से लड़कियां को दर्द होता था।
फिर यहां तो जीजा का लन्ड मुझसे भी बड़ा और मोटा था।

मुझे देखने में मजा आ रहा था क्योंकि मुझे देखना था कितना अंदर तक लन्ड जाएगा।

जीजा अब अपने लन्ड को चंचल दीदी की चूत पर रखकर अंदर डालने लगता है।
लन्ड घुसते ही चंचल दीदी की हल्की सी चीख निकल जाती है- आह ह ह ह ह …
वो जीजा को हाथ से पकड़ लेती है जिससे जीजा पूरा लन्ड ना डाले।

जीजा का आधा से थोड़ा ज्यादा लन्ड चूत में घुस पा रहा था।
दीदी की सिसकियां निकल रही थी।

कुछ मिनट बाद जीजा चंचल दीदी के दूध को मुंह से दबा कर चूसने लगा।
अब चंचल दीदी और गरम हो गई।

जीजा भी अब झड़ने वाला था तो दोनों अपने चरम पर पहुंच चुके थे।
जो लन्ड अभी तक आधा घुस रहा था देखते ही देखते जीजा पूरा का पूरा लन्ड कस कसकर डालने लगा।

अब चंचल दीदी की चिल्लाने लगी, रुकने के लिए बोलने लगी।
लेकिन जीजा पूरा पूरा लन्ड घुसा रहा था।

चंचल दीदी के दोनों हाथो को जीजा ने कस कर पकड़ लिया और दीदी की चीखो के बाद भी फूल स्पीड से अंदर बाहर कर चोदने लगा।
कुछ और झटकों के बाद जीजा ने अपना माल उसके पेट पर गिरा दिया और लन्ड को कपड़े से साफ कर अपना लन्ड फिर से चंचल दीदी के मुंह में डाल दिया।

चंचल दीदी ने कुछ सेकंड के लिए चूसा फिर कैमरा जीजा ने अपने हाथ में उठा लिया और चंचल दीदी की गांड पर तो तीन हाथ से थप्पड़ मारे।
चंचल दीदी बाथरूम में साफ सफाई करने के लिए चली गई।

जीजा वहाँ पर भी उनकी रिकॉर्डिंग कर रहा था।
चंचल दीदी उसको कैमरा बन्द करने के लिए कह रही थी लेकिन जीजा नहीं मान रहा था।

बाथरूम में दीदी अपनी चूत में उंगली डालकर साफ करती है।
जीजा बीच बीच बाथरूम में भी दूध को दबा रहा था।

फिर कैमरा बन्द हो जाता है।

अब एक और 2 मिनट की वीडियो के बारे में बता रहा हूं।

चंचल दीदी की चूत में गाजर डालने का वीडियो था।
चंचल दीदी बेड पर बैठी होती है, जीजा उसको एक गाजर देता फिर चंचल दीदी उसको अन्दर तक लेती है।
दीदी कहती है- अब और अंदर नहीं जाएगी।
जीजा कहता है- थोड़ा और अंदर तक लो। थोड़ी चूत खुलेगी तो मेरा पूरा अन्दर जाएगा और तुम्हें और मज़ा आएगा।

लेकिन चंचल दीदी पूरा गाजर अंदर तक नहीं ले पा रही थी।

जीजा ऐसे 5 महीने तक मज़ा लेता रहा।

चंचल दीदी और जीजा एक तरह से लिव इन रिेशनशिप में रहने लगे।
मेरी ममेरी दीदी भी कुछ नहीं बोल पा रही थी क्योंकि मैं उनको कई बार चोद चुका था।
जीजा इस बात का ही फायदा उठाता था और चंचल दीदी को चोदता था।

चंचल दीदी के ब्वॉयफ्रेंड ने उसका ट्रांसफर वापस हैदराबाद करवा लिया।
अब शायद वो लोग शादी भी कर ले।
जीजा भी अब केवल अपनी बीवी को चोदता है।

मेरी ममेरी दीदी ने कैमरे से सारे वीडियो डिलीट कर दिए थे।
मैंने भी सारे वीडियो और फोटो डिलीट कर दिए थे।

एक छोटी सी क्लिप जिसमे चंचल दीदी का चेहरा नहीं दिख रहा था। उसमें गाजर को चूत में डाल रही थी, उसको एक ऑफिस में काम करने वाले लड़के को भेजी थी।
वो लड़का शायद सोच रहा होगा कि कोई क्लिप इंटरनेट से डाउनलोड की है।
उस शॉर्ट वीडियो में कोई आवाज़ नहीं थी, सिर्फ चंचल दीदी गाजर को चूत में अंदर बाहर कर रही थी।

उनके दूध साफ साफ दिख रहे थे, केवल शक्ल छुपी थी।
वो लड़का बोल वीडियो देखकर बोल रहा था- मेरे लन्ड पर कूदो रानी … गाजर से क्या होगा?

उसने भी वीडियो देखकर हिलाया होगा।
फिर कुछ दिनों बाद डिलीट कर दिया होगा।

2 साल बाद
जीजा के लड़के का जन्मदिन था।
इसलिए उसने मुझे और चंचल दीदी को बर्थडे में बुलाया।

शाम को बर्थडे के बाद सब मेहमान अपने अपने घर चले गए।
जीजा का बेटा भी खेलते खेलते पड़ोस की बुआ जी के यहां सो गया था।

अब घर में हम चार लोग ही थे।
जीजा तो पहले ही चंचल दीदी को लेकर कमरे में घुस गया था।

मैं समझ गया कि आज तो वो भूखे भेड़िए की तरह चोद रहा होगा।

कुछ देर में चंचल दीदी की हल्की हल्की आवाज आना शुरू हो गई।

मैंने ममेरी दीदी नेहा से कहा- मुझे जीजा को देखना है।
उसने दरवाजे के छोटे से छेद की तरफ इशारा किया।

उस छेद से बहुत थोड़ा सा दिख रहा था। केवल हल्के हल्के दूध जिसको जीजा कसकर जकड़े हुए था।
मैंने भी नेहा दीदी के ब्लाउज पर हाथ रख दबा दिया और उसकी साड़ी खोलने लगा।

लेकिन अब वो बदल गई थी, उसने मेरा हाथ अपने ब्लाउस से हटा दिया।
वो बोली- अब ये सब सही नहीं है।
उसने मुझे मना कर दिया।

बार बार उसका ब्लाउज को ऊपर से दबाने के बाद भी उसने मना कर दिया।
अब वो ये सब नहीं चाहती थीं।

मैंने उससे कहा- सेक्स नहीं करेंगे। केवल ब्लाउज़ खोल कर दूध दबाने दो।
मेरे बहुत कहने पर वो मान गई।

उसके ब्लाउज़ को मैंने खोल दिया और अपने मुंह में उसके दूध को रख कर पीने लगा।
और अपना लन्ड बाहर निकाल कर मैं मुठ मारने लगा।

मैं अपने आप पर कंट्रोल नहीं कर पा रहा था।
मैंने नेहा दीदी की साड़ी में हाथ डालकर उंगली को उनकी चूत में डाल दिया और चूत में उंगली डालते ही उनकी चूत गीली गीली लगने लगी।
मेरा तो पूरा माल बाहर आ गया था।

मैंने मुठ मारनी बंद कर दी।

लेकिन नेहा दीदी को माल नहीं बाहर आया था इसलिए अब मैं तीन तीन उंगली को घुसा चुका था।
कुछ देर बाद नेहा दीदी का माल भी बाहर निकल गया।

उधर जीजा चंचल दीदी के साथ खेल रहा था।

अगले दिन मैं वापस काम पर चला गया।
जीजा ने चंचल दीदी को 2 दिन तक रोके रखा और चोदता रहा।
नेहा दीदी से मैंने कहा था कि अगर जीजा कोई वीडियो रिकॉर्ड करे तो उसको डिलीट कर देना। डिलीट करने से पहले मुझे भेज देना, मैं देख कर डिलीट कर दूंगा।

2 दिन बाद नेहा ने केवल 1 हॉट दीदी वीडियो भेजी।
उसने कहा- केवल एक वीडियो ही पड़ा है।

वीडियो में मैंने देखा कि जीजा अपना पूरा लण्ड चंचल दीदी की चूत में डाल रहा था। पूरा अन्दर तक घुसा दिया था।
चंचल दीदी को जैसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा था। उसकी चूत अब जीजा के लन्ड से बड़ी हो चुकी थी।

जीजा कह रहा था पहले तो थोड़ा सा डालने पर चीखने लगती थी, अब तो कुछ असर नहीं होता।
वो हंसने लगी और बोली- गाजर अब पूरी घुस जाती है तो तुम्हारा लन्ड क्या चीज है।

जीजा के हर एक झटके के साथ चंचल दीदी के दोनों दूध हिल रहे थे।
दीदी बार बार दोनों हाथों से पकड़ कर उनको हिलने से रोक रही थी।

जीजा उसके हाथों को पकड़कर बेड पर दबाए था। जीजा को हिलते हुए दूध अच्छे लग रहे थे। जीजा का लन्ड बिल्कुल स्पीड से चल रहा था- सट सट सट … की आवाज़ वीडियो में गूंज रही थी।

थोड़ी देर बाद जीजा का माल बाहर निकला।
जीजा अपना माल चंचल दीदी के मुंह में देना चाहता था लेकिन उसने मना कर दिया।
फिर जीजा ने अपना माल उसके दूध पर गिरा दिया।

तो पाठको, आपको मेरी हॉट दीदी कहानी कैसी लगी?

Posted in Sali Sex

Tags - chudai kahaniyadesi ladkigand ki chudaigandi sexy kahaniyahot girlhot sexmast ram ki mast kahaniyanangi ladkipublic sexsuhagrat ka sexxxx stori hindi